Top
Home > बिजनेस > दिवालिया होने के बावजूद कर्मचारियों को बोनस देना चाहता है नीरव मोदी!

दिवालिया होने के बावजूद कर्मचारियों को बोनस देना चाहता है नीरव मोदी!

दिवालिया होने के बावजूद कर्मचारियों को बोनस देना चाहता है नीरव मोदी!

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के...Editor

पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी की कंपनी ने अमेरिका में दिवालिया घोषित होने की चिट्ठी डाली थी, लेकिन इस बीच एक नई बात सामने आई है. अमेरिकी ट्रस्टी विलियम के. हैरिंगटन का दावा है कि दिवालिया घोषित करने की अपील के बावजूद नीरव मोदी अपने कर्मचारियों को बोनस देना चाहता है. विलियम ने इस बात पर आपत्ति व्यक्त की है.


विलियम ने जो प्रस्ताव रखा है उसमें कहा गया है कि कोर्ट को ये मालूम है कि नीरव मोदी की कंपनी दिवालिया घोषित होने की प्रक्रिया से गुजर रही है. इसके अलावा नीरव मोदी भी भारत में इस दौरान एक बैंक घोटाले में लिप्त हैं. ऐसे में बोनस की बात सही नहीं है.

विलियम के अनुसार, नीरव मोदी की फायरस्टार डायमंड इंक, ए जेफ और सिनर्जिस कॉर्पोरेशन ने न्यूयॉर्क कोर्ट में दिवालिया घोषित होने की अर्जी दायर की हुई है. इसके बावजूद अब वह अपने कर्मचारियों को करीब 230000 यूएस डॉलर तक का बोनस देना चाहते हैं.

इसके अलावा जिस प्रकार से नीरव मोदी की कंपनी ने अपने कर्मचारियों की जानकारी दी है, उसपर भी आपत्ति जताई गई है. कंपनी की ओर से कर्मचारियों के नाम, जॉब प्रोफाइल और अन्य डिटेल छुपाई गई हैं. अब इस मामले की सुनवाई 2 मई को होगी.

गौरतलब है कि नीरव मोदी की फायरस्टार डायमंड के अलावा पीएनबी से हजारों करोड़ का घोटाले करने में उनके रिश्तेदार मेहुल चोकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स लिमिटेड को भी संदिग्ध रखा गया है.

पंजाब नेशनल बैंक-नीरव मोदी घोटाले की गुत्थी सीबीआई और ईडी अभी सुलझा ही रही थी कि इस मामले में एक और बड़ा खुलासा हुआ था. नए खुलासे में पता चला है कि घोटाले की रकम 11400 करोड़ नहीं बल्कि इससे भी ज्यादा है.

पंजाब नेशनल बैंक की तरफ से खुद इस बात की जानकारी दी गई है कि इस घोटाले की रकम में अन्य 1300 करोड़ रुपए के फ्रॉड ट्रांजैक्शन का पता लगा है. यानी पहले के 11400 और अब 1300 करोड़ के खुलासे के बाद अब स्कैम की कुल रकम 12700 करोड़ रुपए हो गई है.

Tags:    
Share it
Top