Top
Home > बिजनेस > मंदी की आशंका से एशिया में भूचाल, सेंसेक्स 400 अंक फिसला, निफ्टी 11,400 के नीचे

मंदी की आशंका से एशिया में भूचाल, सेंसेक्स 400 अंक फिसला, निफ्टी 11,400 के नीचे

मंदी की आशंका से एशिया में भूचाल, सेंसेक्स 400 अंक फिसला, निफ्टी 11,400 के नीचे

वैश्विक अर्थव्यवस्था में मंदी...Editor

वैश्विक अर्थव्यवस्था में मंदी की आशंका के बीच भारतीय शेयर बाजार में भारी गिरावट आई है। हफ्ते के पहले कारोबारी दिन बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का बेंचमार्क इंडेक्स, सेंसेक्स करीब 400 अंकों तक लुढ़क गया।वैश्विक अर्थव्यवस्था की खराब हालत की आशंका के बीच अमेरिकी शेयर बाजार में निवेशकों ने भारी बिकवाली की, जिसका असर भारत समेत अन्य एशियाई बाजारों पर भी देखने को मिला।सेंसेक्स शुक्रवार को 38,164.61 पर बंद होने के बाद सोमवार को 38,016.76 पर खुले। वहीं नैशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी शुक्रवार को 11,456.90 पर बंद होने के बाद सोमवार को 11,393.65 पर खुला।निफ्टी में 41 शेयर लाल निशान में जबकि 9 शेयर हरे निशान में ट्रेड कर रहे हैं। अमेरिकी शेयर बाजार में भारी गिरावट: गौरतलब है कि अमेरिका में मैन्युफैक्चरिंग के कमजोर आंकड़ों अमेरिका और वैश्विक अर्थव्यवस्था में मंदी की आशंका को हवा दी है। अमेरिकी मैन्युफैक्चरिंग इंडेक्स गिरकर 21 महीनों के निचले स्तर पर जा चुका है।

इसके अलावा अमेरिकी बाजार बॉन्ड यील्ड को लेकर सबसे ज्यादा चिंतित है। दरअसल तीन महीनों की बॉन्ड यील्ड 10 साल से ज्यादा की हो चुकी है।शुक्रवार को डाउ जोंस भारी बिकवाली की वजह से 460.19 अंक टूटकर 25,502.32 पर बंद हुआ। वहीं स्टैंडर्ड एंड पुअर्स 500 इंडेक्स 54 अंकों की गिरावट के साथ 2800.71 पर बंद हुआ, जो 3 जनवरी के बाद से आई सबसे बड़ी गिरावट है।अमेरिकी शेयर बाजार में यह गिरावट वैसे समय में आई है, जब फेडरल रिजर्व इस साल के दौरान ब्याज दरों में इजाफा नहीं किए जाने का संकेत दे चुका है।सबसे ज्यादा पिटाई बैंक और टेक्नोलॉजी शेयरों की हुई, जिसकी वजह से अमेरिका बाजार दबाव में आ गया।लुढ़के एशियाई बाजार: जापान का बाजार निक्केई करीब 3 फीसद की भारी गिरावट के साथ 20930.27 के स्तर पर कारोबार कर रहा है।

वहीं, एसजीएक्स निफ्टी करीब 100 से अधिक अंकों तक फिसल चुका है।कोरियाई बाजार कोस्पी और ताइवान के शेयर बाजार में भी करीब 2 फीसद तक की गिरावट आई है।दबाव में बैंकिंग और मेटल शेयर: सेंसेक्स में भी बैंकिंग काउंट पर जबरदस्त दबाव देखने को मिला है। एसएंडपी बीएसई का बैंकिंग इंडेक्स करीब 350 अंकों की गिरावट के साथ ट्रेड कर रहा है। बैंकिंग शेयरों में सबसे ज्यादा दबाव में बैंक ऑफ बड़ौदा और एसबीआई का शेयर ट्रेड कर रहा है।बैंकिंग के अलावा मेटल काउंटर पर भी जबरदस्त बिकवाली हुई है। एसएंडपी बीएसई का मेटल इंडेक्स करीब दो फीसद तक टूट चुका है।

मेटल शेयरों में सबसे ज्यादा पिटाई वेदांत, सेल, हिंडाल्को और एनएमडीसी के शेयरों की हुई है। हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन हावी हुई मुनाफावसूली की वजह से शुक्रवार को सेंसेक्स 222.14 अंकों की गिरावट के साथ 38,164.61 पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 64.15 अंकों की गिरावट के साथ 11,500 के नीचे 11,456.90 पर बंद हुआ।रुपये में आई गिरावट: अन्य एशियाई करेंसी में आई गिरावट की वजह से डॉलर के मुकाबले रुपये में भी कमजोरी आई है । सोमवार को रुपया, डॉलर के मुकाबले 69.05 पर ट्रेड कर रहा है।पिछले ट्रेडिंग सेशन में रुपया 68.96 पर बंद हुआ था। फिच घटा चुका है भारतीय GDP का अनुमान: उम्मीद से कम आर्थिक वृद्धि का अनुमान लगाते हुए फिच रेटिंग्स अगले वित्त वर्ष के लिए जीडीपी के अनुमान में कटौती कर चुका है।फिच ने 2019-20 के लिए भारत के जीडीपी अनुमान को 7 फीसद से घटाकर 6.8 फीसद कर दिया है।

Share it
Top