Top
Home > बिजनेस > 2018 में फ्रांस व ब्रिटेन को पीछे छोड़, भारत बनेगा विश्व की सबसे बड़ी शक्ति

2018 में फ्रांस व ब्रिटेन को पीछे छोड़, भारत बनेगा विश्व की सबसे बड़ी शक्ति

2018 में फ्रांस व ब्रिटेन को पीछे छोड़, भारत बनेगा विश्व की सबसे बड़ी शक्ति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने...Editor

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिन अटल इरादों के साथ भारत को विश्व की सबसे बड़ी ताकत बनाने का संक्लप लिया था। वो जल्द साकार होने वाला है, 2018 में भारत विश्व की सबसे बड़ी आर्थिक शक्ति बनने जा रहा है। अब दुनिया भर में भारत का डंका बजेगा, भारत विश्व गुरू बनेगा, ये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कड़े तप का नतीजा है, कि अब दुनिया भारत की ताकत को ना सिर्फ मान रही है। बल्कि पहचान रही है। सेंटर फॉर इकनॉमिक ऐंड बिजनस रिसर्च कंसल्टंसी ने एक रिपोर्ट जारी करते हुए ये दावा किया भारत 2018 तक विश्व की 5 वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा।


रिपोर्ट के मुताबिक भारत की अर्थव्यवस्था में तेजी से सुधार हो रहा है। भारत जल्द ही ब्रिटेन और फ्रांस को पछाड़ देगा। भारतीय अर्थव्यवस्था में तेजी से हो रहे सुधार से पूरा विश्व हैरान है। हर कोई मान रहा है। कि अर्थव्यवस्था में हो रहे सुधार का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कड़ी मेहनत और शानदार अर्थिक नीति को जाता है। बीते दिने सेंटर फॉर इकनॉमिक ऐंड बिजनस रिसर्च कंसल्टंसी रिपोर्ट में भारत की तेज अर्थव्यवस्था के राज से भी पर्दा उठा दिया। रिपोर्ट के मुताबिक ऊर्जा एवं तकनीक के सस्ते साधनों की बदौलत वैश्विक अर्थव्यवस्था में तेजी से वृद्धि हो रही है, इसपर ब्रिटेन की सीईबीआर ने भी मुहर लगाई है। यानी की आने वाले समय में भारत की अर्थव्यवस्था आने वाले समय में डॉलर में होगी।

ये भारत के हर एक नागरिक की बड़ी उपलब्धी है, साथ ही उन विरोधियों के मुंह पर तमाचा जो नोटबंदी और जीएसटी को भारत की अर्थव्यवस्था में रूकावट बता देश विरोधी बयान देते रहे। क्योंकि इनके लागू होने के बाद भारत की अर्थव्यवस्था में गिरावट देखने को मिली, लेकिन ये बिलकुल वैसे था, जैसे बड़ा पहलवान अपना दांव लगाने के लिए दो कदम पीछे हटता है, और अब जो होने जा रहा है। वो पूरी दुनिया देखेगी, भारतीय अर्थव्यवस्था की जीडीपी के आंकड़े ना सिर्फ रफ्तार पकड़ने लगेगी। बल्कि सबको पीछे छोड़ देगी। इसका असर हाल में देखने को भी मिला है। हाल ही में दूसरी तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद में 6.3 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है, और अब यह दावा किया गया है, कि भारत अगले साल ब्रिटेन और फ्रांस को पछाड़कर दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगा। आपको बता दें कि इस मामले में ब्रिटेन की सीईबीआर का मानना है, कि अस्थाई असफलताओं के बावजूद भारत की अर्थव्यवस्था फ्रांस व ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था को बराबर टक्कर दे रही है। अगर भारत की अर्थव्यवस्था इसी क्रम में बढ़ती रही, तो भारत अगले साल 2018 में फ्रांस व ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था को पीछे छोड़ देगा।

भारत की वृद्धि ट्रेंड का एक हिस्सा है, जो दिखाता है कि अगले 15 सालों में टॉप 10 सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में एशियन देशों का दबदबा होगा। फिलहाल वर्ल्ड बैंक के अनुसार भारत दुनिया की टॉप-10अर्थव्यवस्थाओं में 7 वें स्थान पर है।

वर्ल्‍ड बैंक के अनुसार दुनिया की टॉप-10 अर्थव्‍यवस्‍थाएं :

अमेरिका (18 लाख करोड़ डॉलर)

चीन (11 लाख करोड़ डॉलर)

जापान (4.4 लाख करोड़ डॉलर)

जर्मनी (3.3 लाख करोड़ डॉलर)

ब्रिटेन (2.9 लाख करोड़ डॉलर)

फ्रांस (2.4 लाख करोड़ डॉलर)

भारत (2 लाख करोड़ डॉलर)

इटली (1.8 लाख करोड़ डॉलर)

ब्राजील (1.8 लाख करोड़ डॉलर)

कनाडा (1.5 लाख करोड़ डॉलर)

लेकिन जल्द ये आंकड़े बदल जाएंगे। भारत जल्द ही दुनिया के पटल पर अपने से आगे सभी देशों को पछाड़ कर दुनिया की सबसे बड़ी शक्ति होगा।

Tags:    
Share it
Top