Top
Home > बिजनेस > HDFC ने कमाया 2190 करोड़ रुपये का मुनाफा, सेंट्रल बैंक को हुआ 1522 करोड़ का घाटा; जानिए अन्य कंपनियों के नतीजे

HDFC ने कमाया 2190 करोड़ रुपये का मुनाफा, सेंट्रल बैंक को हुआ 1522 करोड़ का घाटा; जानिए अन्य कंपनियों के नतीजे

HDFC ने कमाया 2190 करोड़ रुपये का मुनाफा, सेंट्रल बैंक को हुआ 1522 करोड़ का घाटा; जानिए अन्य कंपनियों के नतीजे

देश की दिग्गज कंपनियों की ओर...Editor

देश की दिग्गज कंपनियों की ओर से वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही के नतीजें जारी किये जा रहे हैं। इनमें एचडीएफसी, सेंट्रल बैंक, एस्कॉर्ट्स, गोदरेड इंडरस्ट्रीज, पीरामल एंटरप्राइजेज और सेंचुरी टेक्सटाइल शामिल हैं।

एचडीएफसी का जून तिमाही में मुनाफा 54 फीसद तक बढ़ा-

एचडीएफसी का चालू वित्त वर्ष की अप्रैल से जून तिमाही में मुनाफा 54 फीसद बढ़कर 2190 करोड़ रुपये हो गया है। बीते वर्ष की समान अवधि में एचडीएफसी को 1424.47 करोड़ रुपये का नेट प्रॉफिट हुआ था। समीक्षाधीन अवधि के दौरान कंपनी की आय 20 फीसद बढ़कर 9952 करोड़ रुपये हो गई है जो बीते वर्ष 8289.98 करोड़ रुपये थी। संचालन से राजस्व की बात करें तो यह जून में बढ़कर 9883.64 करोड़ रुपये रही है जो बीते वर्ष की समान अवधि में 8259.77 करोड़ रुपये रहा था।

सेंट्रल बैंक को हुआ 1522.2 करोड़ रुपये का घाटा

वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही (अप्रैल से जून) में सेंट्रल बैंक ने 1,522.24 करोड़ रुपये का घाटा दर्ज किया है। वित्त वर्ष 2018 की समान अवधि में बैंक को 576.8 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। इस दौरान सेंट्रल बैंक की ब्याज आय 26 फीसद बढ़कर 1,678 करोड़ रुपये रही है जो बीते वर्ष की समान अवधि में 1,331 करोड़ रुपये रही थी। तिमाही दर तिमाही के आधार पर बात करें तो जून तिमाही में बैंक का ग्रॉस एनपीए 18 फीसद से बढ़कर 22 फीसद रहा है। वहीं नेट एनपीए 11 फीसद से घटकर 10.5 फीसद रहा है। रुपये में बात करें तो बैंक का जून तिमाही में ग्रॉस एनपीए 31,398.47 करोड़ रुपये से बढ़कर 38,777.6 करोड़ रुपये रहा है। साथ ही नेट एनपीए 17,407.43 करोड़ रुपये से घटकर 16,086.25 करोड़ रुपये रहा है।

एस्कॉर्ट्स का मुनाफा 92.7 फीसद बढ़ा

चालू वर्ष की पहली तिमाही में एस्कॉर्ट्स का मुनाफा 92.7 फीसद बढ़कर 120.7 करोड़ रुपये हो गया है जबकि बीते वित्त वर्ष की समान अवधि में यह 62.6 करोड़ रुपये रहा था। इस दौरान कंपनी की आय 32.3 फीसद बढ़कर 1511.3 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2018 की जून तिमाही में कंपनी की आय 1142.3 करोड़ रुपये रही थी। वार्षिक आधार पर पहली तिमाही में एस्कॉर्ट्स का एबिटडा 97.6 करोड़ रुपये से बढ़कर 185.5 करोड़ रुपये रहा है वहीं एबिटडा मार्जिन 8.5 फीसदी से बढ़कर 12.3 फीसदी रहा है।

गोदरेज कंज्यूमर का मुनाफा 79.9 फीसद बढ़ा

गोदरेज कंज्यूमर का मुनाफा वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में 79.9 फीसद बढ़कर 405 करोड़ रुपये हो गया है। बीते वर्ष की समान अवधि में कंपनी मुनाफा 225.2 करोड़ रुपये रहा था। साथ ही गोदरेज कंज्यूमर के बोर्ड ने दो शेयर पर एक बोनस शेयर जारी करने की मंजूरी दी है। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में कंपनी की आय 13.7 फीसद बढ़कर 2,476 करोड़ रुपये हो गई है। बीते वित्त वर्ष की समान अवधि में कंपनी की आय 2177 करोड़ रुपये रही थी। सालाना आधार पर जून तिमाही में गोदरेज कंज्यूमर का एबिटडा 349.4 करोड़ रुपये से बढ़कर 444.1 करोड़ रुपये हो गया है। साल दर साल आधार पर पहली तिमाही में कंपनी का एबिटडा मार्जिन 17.9 फीसद रहा है।

पीरामल एंटरप्राइजेज को हुआ 69.8 करोड़ रुपये का नुकसान

वित्त वर्ष 2019 की जून तिमाही में पीरामल एंटरप्राइजेज ने 69.8 करोड़ रुपये का घाटा दर्ज किया है। कंपनी को 452 करोड़ रुपये का एकमुश्त नुकसान हुआ है। वहीं बीते वित्त वर्ष की समान अवधि में पीरामल एंटरप्राइजेज को 302.2 करोड़ रुपये का प्रॉफिट हुआ था। इस दौरान कंपनी की आय 29.2 फीसद बढ़कर 2,902.5 करोड़ रुपये हो गई है। जबकि वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में पीरामल एंटरप्राइजेज की आय 2,245.8 करोड़ रुपये ही थी। सालाना आधार पर जून तिमाही में कंपनी का एबिटडा बढ़कर 1,084 करोड़ रुपये हो गया है। साल दर साल आधार पर जून तिमाही में कंपनी का एबिटडा मार्जिन घटकर 37.4 फीसद रहा है।

सेंचुरी टेक्सटाइल का 35.3 फीसद मुनाफा बढ़ा

चालू वित्त वर्ष की अप्रैल से जून तिमाही में सेंचुरी टेक्सटाइल का मुनाफा 35.3 फीसद बढ़कर 162.6 करोड़ रुपये रहा है। बीते वित्त वर्ष की समान अवधि में कंपनी का प्रॉफिट 120.2 करोड़ रुपये रहा था। वित्त वर्ष 2019 की पहली तिमाही में सेंचुरी टेक्सटाइल की आय 2,188 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2018 की पहली तिमाही में कंपनी की आय 2,077 करोड़ रुपये रही थी। सालाना आधार पर पहली तिमाही में सेंचुरी टेक्सटाइल का एबिटडा बढ़कर 434.1 करोड़ रुपये रहा है। साल दर साल आधार पर जून तिमाही में कंपनी का एबिटडा मार्जिन बढ़कर 19.8 फीसदी रहा है।

Tags:    
Share it
Top