Top
Home > मुख्य समाचार > LIVE: थोड़ी देर में पत्नी और मां से मिलेंगे जाधव, इस्लामाबाद में सुरक्षा के कड़े इंतजाम

LIVE: थोड़ी देर में पत्नी और मां से मिलेंगे जाधव, इस्लामाबाद में सुरक्षा के कड़े इंतजाम

LIVE: थोड़ी देर में पत्नी और मां से मिलेंगे जाधव, इस्लामाबाद में सुरक्षा के कड़े इंतजाम

जाधव और उनके परिवार के लिए आज...Editor

जाधव और उनके परिवार के लिए आज 'बड़ा दिन' साबित होगा। भारतीय कैदी कुलभूषण जाधव से मिलने के लिए उनकी पत्नी और मां इस्लामाबाद पहुंच चुकी हैं। पाक मीडिया के मुताबिक कुलभूषण जाधव को राजनयिक मदद नहीं दी जा रही है।

पाकिस्तानी रेंजर्स और एंटी टेररिस्ट स्कवायड, शॉर्प शूटर्स की तैनाती की गई है। संबंधित क्षेत्र में किसी प्रकार के वाहन को घुसने की अनुमति नहीं दी गई है।
बता दें कि पाकिस्तानी विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने शनिवार की रात को ट्वीट कर कहा था कि भारत ने हमें बताया है कि कमांडर जाधव की मां और पत्नी 25 दिसंबर को एक वाणिज्यिक उड़ान से यहां पहुंचेंगे और उसी दिन लौट जाएंगे। इस मुलाकात के दौरान इस्लामाबाद में भारतीय उप उच्चायुक्त जेपी सिंह भी जाधव की पत्नी और मां के साथ मौजूद होंगे।
उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जासूसी और आतंकवाद संबंधी आरोपों के तहत अप्रैल में 47 वर्षीय जाधव को मौत की सजा सुनाई थी। इसके खिलाफ मई में भारत ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का रुख किया था। भारत की याचिका पर अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने अपना अंतिम फैसला सुनाए जाने तक सजा की तामील पर रोक लगा दी थी।
20 दिसंबर को पाक ने जारी किया था वीजा
पाकिस्तान ने गत 20 दिसंबर को जाधव की पत्नी और मां को इस्लामाबाद के दौरे के लिए वीजा जारी किया था। इससे पहले ऐसी खबरें थी कि पाकिस्तान से भारत से जाधव के परिवार की योजना के बारे में जल्द से जल्द जानकारी देने को कहा है क्योंकि ऐसा नहीं करने पर मुलाकात की व्यवस्था मुश्किल हो जाएगी।
मुलाकात से जुड़ी तस्वीरें और वीडियो किए जाएंगे जारी
इससे पहले ऐसी खबरें थी कि यह मुलाकात किसी अज्ञात स्थान पर होगी। हालांकि पाकिस्तानी विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने साफ किया है कि मुलाकात विदेश मंत्रालय में होगी और इससे जुड़ी तस्वीरें और वीडियो जारी किए जाएंगे।
इंसानियत के नाते मिलने की इजाजत देने की कही बात
फैसल ने एक अन्य बयान में कहा था कि जाधव को मां और पत्नी से मिलने की इजाजत दो वजहों से दी गई है। पहली, इस्लामिक परंपरा जबकि दूसरी इंसानियत के नाते। हालांकि पूर्व में भारत ने जाधव के लिए काउंसलर एक्सेस की मांग की थी। लेकिन पाक ने इसे यह कहते हुए ठुकरा दिया था कि जाधव कथित तौर पर जासूस है और ऐसे मामलों में उसे यह सुविधा नहीं दी जा सकती है।

Share it
Top