Top
Home > मुख्य समाचार > UN ने भी माना PAK को टेररिस्तान, दाऊद-हाफिज समेत 139 आतंकी ग्लोबल लिस्ट में

UN ने भी माना PAK को टेररिस्तान, दाऊद-हाफिज समेत 139 आतंकी ग्लोबल लिस्ट में

UN ने भी माना PAK को टेररिस्तान, दाऊद-हाफिज समेत 139 आतंकी ग्लोबल लिस्ट में

भारत का सबसे बड़ा दुश्मन और...Editor

भारत का सबसे बड़ा दुश्मन और मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद पर अमेरिका के बाद यूएन का भी शिकंजा कसता जा रहा है. संयुक्त राष्ट्र (यूएन) ने आतंकवादियों की लिस्ट जारी की है, जिसमें 139 पाकिस्तान से जुड़े आतंकवादी या फिर आतंकी संगठन हैं. इस लिस्ट में 1993 मुंबई बम ब्लास्ट के आरोपी अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का भी नाम है.


एक तरह से भारत पाकिस्तान के जिन संगठनों को आतंक फैलाने के लिए जिम्मेदार मानता आया है, वो यूएन की आतंकी लिस्ट में हैं. UN की इस लिस्ट से भारत के दावों को बल मिला है. यूएन की 139 पाकिस्तानी आतंकियों की लिस्ट में अलकायदा, लश्कर-ए-तैयबा और जमात-उद-दावा का भी नाम है.

हाफिज की पार्टी पर अमेरिकी चोट

दरअसल इससे पहले अमेरिका ने जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद को तगड़ा झटका दिया. अमेरिका ने मंगलवार को मिल्ली मुस्लिम लीग को एक आतंकवादी संगठन घोषित कर दिया था. एमएमएल मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद के नेतृत्व वाले आतंकवादी संगठन जमात-उद-दावा का राजनीतिक मोर्चा है.

अमेरिका ने एमएमएल के साथ इसके सात सदस्यों को भी विदेशी आतंकवादी घोषित किया है. इसका मतलब है कि पाकिस्तान की राजनीति में अपने पैर जमाने की कोशिश में जुटे हाफिज सईद ने जिस राजनीतिक पार्टी का गठन किया था वह अब अमेरिका के आतंकी संगठनों की लिस्ट में शामिल हो गई. और अब अगले दिन यूएन ने आतंकियों की लिस्ट जारी कर पाकिस्तान की पोल खोल दी है.

भारत ने PAK को बताया था टेररिस्तान

कश्मीर राग अलाप रहे पाकिस्तान को संयुक्त राष्ट्र में पिछले साल भारतीय राजनयिक एनम गंभीर ने करारा जवाब दिया था. भारत ने पाकिस्तान को 'टेररिस्तान' करार दिया. आपको बता दें कि पाकिस्तान के पीएम शाहिद अब्बासी ने यूएन जनरल असेंबली में यूएन से कश्मीर में एक विशेष दूत तैनात करने की मांग की थी. आरोप लगाया था कि कश्मीर में संघर्ष को भारत की तरफ से कुचला जा रहा है. जिसके बाद एनम गंभीर ने कहा था, 'टेररिस्तान बन चुके पाकिस्तान में आतंक का कारोबार चल रहा है और इंटरनेशनल लेवल पर फैल रहा है.' यही नहीं, एनम ने कहा कि ये एक अद्भुत बात है कि जिस देश ने ओसामा बिन लादेन और मुल्ला उमर को शरण दी, वह खुद को पीड़ित बता रहा है.

हाफिज की करतूत

बता दें, कि जमात-उद-दावा का संगठन लश्कर-ए-तैयबा पूरी दुनियाभर में अपनी आतंकी करतूतों को लेकर बदनाम है. अमेरिका ने भी संगठन और हाफिज सईद को आतंक का आका माना है. यहां तक कि उसे आजाद घूमने की इजाजत मिलने पर भी अमेरिका ने विरोध किया था. वहीं मुंबई में 26/11 हमले का मास्टरमाइंड भी हाफिज सईद ही है.

इसके अलावा 1993 मुंबई बम ब्लास्ट का मास्टरमाइंड दाऊद इब्राहिम का भी नाम इस लिस्ट में है, और भारत हमेशा से इसके पाकिस्तान में होने की बात करता आया है. लेकिन पाकिस्तान कार्रवाई ना कर झूठ का सहारा लेता रहा है. दाऊद 1995 से फरार है.

Tags:    
Share it
Top