Top
Home > फोटो गैलरी > ये है एशिया का सबसे बड़ा रेड लाइट एरिया, यहां पैदा होते ही लड़कियों की हो जाती है ऐसी जिंदगी

ये है एशिया का सबसे बड़ा 'रेड लाइट एरिया', यहां पैदा होते ही लड़कियों की हो जाती है ऐसी जिंदगी

ये धरती पर ऐसा नर्क है जहां लड़...Editor

ये धरती पर ऐसा नर्क है जहां लड़कियों को जबरन देह-व्यापार में धकेला जाता है, तो कुछ के पैदा होते ही उन्हें सेक्स वर्कर बनाने की तैयारी शुरू हो जाती है...

कई लड़कियों को जबरन इस दलदल में धकेला जाता है तो उधर कुछ ब‌‌च्चियां ऐसी भी हैं जिनके पैदा होते ही उन्हें सेक्स वर्कर बनाने की तैयारियां शुरू हो जाती हैं।
ये कुछ ऐसी तस्वीरें हैं जिन्हें देखकर आपको असहज हो जाएंगे, शायद बुरा भी लग सकता है। लेकिन ये तस्वीरें धरती के इस नर्क की सच्चाई बयां करती हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें ये सभी तस्वीरें डेली मेल से ली गई है।
इन तस्वीरों को लंदन के एक फोटोग्राफर सॉविद दत्ता ने खींचा है। हांलाकि इस इलाके में पहुंचना बेहद मुश्किल होता है, फिर भी उन्होंने कुछ तस्वीरें खींची हैं।
सॉविद ने इन चौंकाने वाली तस्वीरों के साथ-साथ कई चौंकाने वाले रहस्योद्घाटन भी किए। सॉविद ने बताया कि लगभग बारह हजार से भी ज्यादा लड़कियां सोनागाछी में देह-व्यापार के धंधे में लिप्त हैं। ये वो लड़कियां हैं जिनकी उम्र 18 साल से भी कम हैं।
उन्होंने बताया ये ऐसी जगह हैं जहां कई लड़कियां स्कूल छोड़कर देह-व्यापार में उतरती हैं और लड़कों को स्ट्रीट गैंग को संभालना सिखाया जाता है।
यहां पैदा होने वाली कई ब‌च्चियों की किस्मत में ही देह-व्यापार के धंधे में उतरना लिख दिया जाता है।
गौरतलब हो सोनागाछी पर एक अवॉर्ड विनिंग डॉक्यूमेंट्री भी बनाई जा चुकी है। इसका नाम था 'बॉर्न इंटू ब्रॉथेल'।
सोनागाछी में कई महिलाएं पीढ़ियों से हैं। ये इस धंधे में मैडम बनने का काम करती हैं।
ये नौजवान लड़कियां हों या किशोरी.. यहां हर तरह की लड़कियों को इस धंधे में धकेला जाता है।
धंधे के वक्त एक्टिव मैडम्स। ये वे हैं जिनका अलग ही खौफ होता है। यही यहां आने वाले हर लड़की का भविष्य तय करती हैं।

Tags:    
Share it
Top