Top
Home > वीडियो > VIDEO:सेक्स टूरिज्म के लिए जाना जाता है ये शहर, मसाज पार्लर की आड़ में लड़कियां करती हैं ये काम

VIDEO:सेक्स टूरिज्म के लिए जाना जाता है ये शहर, मसाज पार्लर की आड़ में लड़कियां करती हैं ये काम

दुनिया में घूमने फिरने के लिए...Editor

दुनिया में घूमने फिरने के लिए बहुत ही अच्छी जगह है और हर जगह की अपनी अपनी खासियत होती है। आज हम आपको दुनिया के एक ऐसे शहर के बारे में बता रहे हैं जो सिर्फ सेक्स टूरिज्म के लिए जाना जाता है। इस शहर का नाम पाटाया है जो की थाईलैंड में है। थाईलैंड जो की दुनिया भर में वेश्यावृत्ति के लिए जाना जाता है। थाईलैंड का ये शहर वेश्यावृत्ति के लिए दुनियाभर में बदनाम है। वैसे तो थाईलैंड घूमने के लिए दुनिया में काफी लोकप्रिय है टूरिज्म यहां के मुख्य व्यवसाय में से एक हैं ज्यादातर लोग यहां नाइटलाइफ और थाई मसाज का मजा लेने आते हैं यहां का थाई मसाज पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। लेकिन वेश्यावृत्ति भी यहां का एक काला सच है। आंकड़ों के मुताबिक थाईलैंड में 28 लाख से भी ज्यादा वेश्याएं हैं जिसमें से ज्यादातर पाटाया शहर में हैं।




वैश्यावृति दुनिया का सबसे पुराना पेशा है लेकिन इस पेशे के बारे में खुल कर बात करने से लोग अक्सर परहेज करते हैं। थाईलैंड में वेश्यावृत्ति इतनी बढ़ चुकी है कि देश की सरकार भी इस से चिंतित हैं। इस धंधे को चुनने के पीछे कुछ लड़कियों की मजबूरी भी है। सेक्स वर्करों की एक जैसी समस्याएं होती हैं। रोज रोज की गाली गलौज, गरीबी और मारपीट करने वाले परिवार के सदस्य और सुविधाओं के लिए पैसों की कमी उन्हें सेक्स कारोबार में उतार देती है। थाईलैंड का सेक्स उद्योग समय-समय पर किसी वजह से सुर्खियों में बना रहता है।



पाटाया शहर देह व्यापार के धंधे के साथ-साथ अपराधियों का भी अड्डा बन चुका है। दुनिया के कई देशों के अपराधी यहां पनाह लिए हुए हैं और सबसे आश्चर्यचकित बात तो यह है कि पुलिस भी इन अपराधियों का बाल बांका नहीं कर सकती। असल में पुलिस इन अपराधियों के खिलाफ कोई भी एक्शन लेने से बचती है। यही कारण है कि पुलिस की नरमाई के चलते यहां और भी कई गैरकानूनी धंधे चलते हैं जिनकी सूझ-बूझ लेने वाला कोई नहीं है। अन्य देशों से विपरीत, जहां लोग छिप छिपा कर रेड लाइट एरिया में जाते हैं, जबकि यहां टूरिस्ट खास तौर से इस शहर में मौज-मस्ती करने पहुंचते हैं।



इस शहर में पैसे कमाने के लिए लोग किसी भी हद तक गिरने को तैयार है। ऐसे में बच्चों को भी इस गंदे व्यापार में धकेला जा रहा है। आंकड़ों के मुताबिक इस काम में 40 हजार से भी ज्यादा बच्चे भी शामिल हैं। हैवोकस्कोप के अनुसार अधिक से अधिक 2,50,000 लोग वेश्यावृत्ति के साथ जुड़े हुए हैं। थाईलैंड में एक दिन में लगभग 12 लाख रुपये वेश्यावृत्ति से एकत्र किया जाता है। कई लोग इस शहर में थाई लड़कियों से अपने शरीर की मालिश के लिए भी यहां आते हैं। पाटाया में 1,000 से अधिक मसाज पार्लर हैं जो अवैध रूप से वेश्यावृत्ति रैकेट चलाते है। मसाज पार्लर की आड़ में भी यहां बहुत सारे गलत काम होते हैं। यहां बार में डांसर या एस्कॉर्ट के साथ अकेले में समय बिताने के लिए पहले 1100 रुपए चुकाने होते हैं इसके बाद ही आगे का सौदा तय होता है।



लगातार बढ़ती वेश्यावृत्ति से थाईलैंड की छवि पूरी दुनिया में खराब हो रही है जिसकी वजह से सरकार भी चिंतित है। हालांकि, इकोनॉमी को होता फायदा और लोगों के बेरोजगार होने की बात से सरकार इसके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लेना चाहती। लेकिन आपको बता दे कि थाईलैंड में वेश्यावृत्ति अवैध होने के बावजूद देश की जीडीपी में एक अग्रणीय स्थान रखती है। जिसकी वजह से सरकार के विकास के लिए एक अच्छी खासी इनकम आती है। दिलचस्प बात यह है कि पाटाया में वेश्यावृत्ति में पिछले 70 साल से देश में अवैध है फिर भी यह दक्षिण-पूर्व एशिया में सेक्स पर्यटन का केंद्र है। देखें वीडियो-

Tags:    
Share it
Top