Top
Home > लाइफस्टाइल > 18+ > मर्दानगी बढ़ा देती है ये छिपकली, दाम सुनकर चौंक जाएंगे आप

मर्दानगी बढ़ा देती है ये छिपकली, दाम सुनकर चौंक जाएंगे आप

  • In 18+
  •  22 Dec 2017 2:05 PM GMT

मर्दानगी बढ़ा देती है ये छिपकली, दाम सुनकर चौंक जाएंगे आप

इस घरती पर तरह-तरह की...Anonymous

इस घरती पर तरह-तरह की छिपकलियां मौजूद हैं और हम अपने घरों में छिपकलियां देखते हैं. लेकिन यह जानकर आपको हैरान होगी कि दुनिया के कुछेक देशों में एक छिपकली ऐसी भी है, जिसकी कीमत 40 लाख रुपए तक होती है.

मगर इस छिपकली की कीमत ज्यादा होने का कारण जानकर आप आश्चर्यचकित रह जाएंगे. विचित्र सी दिखने वाली इस दुर्लभ छिपकली का नाम 'गीको' है. ये छिपकली 'टॉक-के' जैसी शब्द की आवाज़ निकालती है, इसलिए इसे टॉके भी कहा जाता है. ये छिपकली सामान्य छिपकली की तरह ही दिखती है, लेकिन इस छिपकली में ऐसे गई गुण छुपे हुए हैं जो इंसान की मर्दानगी को बढ़ा देते हैं. यह घरों में पाई जाने वाली छिपकलियों की तुलना में आकार में बड़ी भी होती है.




असल में गीको नामक इस छिपकली का मांस दवाइयां बनाने में उपयोग किया जाता है. दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों में नपुंसकता, डायबिटीज, एड्स और कैंसर की परंपरागत दवाई बनाई जाती है. चीन में भी वहां की परम्परागत दवाइयों में भी इसका उपयोग किया जाता है. इस वजह से इंटरनेशनल ब्लैक मार्केट में इस छिपकली की कीमत 40 लाख रुपए तक है.
यह छिपकली दक्षिण-पूर्व एशिया, बिहार, इंडोनेशिया, बांग्लादेश, पूर्वोत्तर भारत, फिलीपींस तथा नेपाल में पाई जाती है. जंगलों की निरंतर कटाई होने की वजह से गीको नामक यह छिपकली अब समाप्त होती जा रही है. बहुत से स्थानों पर लोग इसको मारकर भी खा जाते हैं.

Share it
Top