Top
Home > लाइफस्टाइल > 18+ > ये लक्ष्ण बताते हैं व्यक्ति नहीं रह सकता शारीरिक संबंधों के बिना

ये लक्ष्ण बताते हैं व्यक्ति नहीं रह सकता शारीरिक संबंधों के बिना

  • In 18+
  •  4 Dec 2017 1:15 PM GMT

ये लक्ष्ण बताते हैं व्यक्ति नहीं रह सकता शारीरिक संबंधों के बिना

हाल ही में खबर आई थी कि जेल...Public Khabar

हाल ही में खबर आई थी कि जेल में बलात्कारी बाबा राम रहीम तड़प रहा है क्योंकि वह सेक्स एडिक्ट हो चुका है. सिरसा के अपने डेरे में स्थित गुप्त गुफा में उसने जबरन कई महिलाओं और युवतियों से संबंध बनाये थे. वह रोज सेक्स के लिए नई लडकियां ढूंढता था. उसे बिना सेक्स किये नींद नहीं आती थी. इसी के चलते जब वह जेल गया तो वहां औरत के शरीर की भूख उसे सताने लगी और वह रातों को बेचैन रहने लगा.

वैसे तो आमतौर पर सेक्स सभी के लिए ज़रूरी सम्बन्ध है. विवाहित जीवन के साथ-साथ यह हर व्यक्ति के लिए एक आवश्यक काम की तरह है. इसके बिना संसार की कल्पना भी नहीं की जा सकती है और इतना ही नहीं, सेक्स के प्रति उदासीन लोगों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. लेकिन सेक्स को लेकर आज हम आपको कुछ ऐसा बताने जा रहे हैं, जिसे सुनने के बाद आप हैरान रह जाएँगे.
सेक्स किसे पसंद नहीं होता वो महिला हो या पुरुष सेक्स को सभी एन्जॉय करते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि सेक्स का भी एडिक्शन होता है? जी हाँ, ये मजाक नहीं बल्कि सच है.सेक्स का भी दूसरी चीज़ों की तरह एडिक्शन हो सकता है.इस एडिक्शन के दौरान लोग सेक्स करने की इच्छा को रोक नहीं पाते और इसलिए ज़िन्दगी में कई बार बड़ी गलतियाँ कर बैठते हैं. आइये जानते हैं क्या है ये सेक्स एडिक्शन और क्यों होती है.
जिन लोगों को बाइपोलर डिसऑर्डर की समस्या होती है, उन्हें सेक्स का एडिक्शन हो सकता है.जब ये लोग अपनी दिमागी हालत की सबसे खराब स्थिति में होते हैं, तो ये सेक्स से सम्बंधित कोई काम करने से नहीं घबराते.इसके अलावा जिन लोगों को ड्रग्स लेने की आदत होती है, उन्हें भी सेक्स का एडिक्शन हो सकता है.जब उन्हें ड्रग्स लेने की आदत होती रहती है या जब ड्रग एडिक्ट ये लत छोड़ने की कोशिश करते हैं, तब उन्हें सेक्स एडिक्शन की समस्या हो सकती है.
जिस व्यक्ति को बॉर्डरलाइन पर्सनालिटी डिसऑर्डर की समस्या होती है, उन लोगों मने भी सेक्स एडिक्शन की समस्या होना आम है.ऐसे लोग जिनका बचपन में शारीरिक शोषण हुआ हो, वे भी सेक्स एडिक्ट हो सकते हैं. वे शारीरिक सम्बन्ध बनाकर अपना खोया हुआअत्मविश्वास पाने की नाकाम कोशिश करते हैं.जिस व्यक्ति के मस्तिष्क का ठीक ढंग से विकास न हुआ हो, वे भी इस समय का शिकार हो सकते हैं.और सेक्स एडिक्शन के चलते खुद को और दूसरों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।जो लोगों में समलैंगिकता के लक्षण होते हैं, वे भी सेक्स एडिक्शन का शिकार हो सकते हैं.

Tags:    
Share it
Top