Top
Home > प्रदेश > बिहार > पटना में जूनियर डॉक्टर्स की हड़ताल से मरीज हुए बेहाल, बच्ची की मौत

पटना में जूनियर डॉक्टर्स की हड़ताल से मरीज हुए बेहाल, बच्ची की मौत

पटना में जूनियर डॉक्टर्स की हड़ताल से मरीज हुए बेहाल, बच्ची की मौत

राजधानी के पीएमसीएच और...Editor

राजधानी के पीएमसीएच और एनएमसीएच के जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल अब जानलेवा बनती जा रही है। बता दें कि एनएमसीएच में एक डॉक्टर की पिटाई के विरोध में गुरूवार को राजधानी पटना के सरकारी अस्पतालों के जूनियर डॉक्टर्स हड़ताल पर चले गए हैं। आज सुबह इलाज के अभाव में एक बच्ची ने दम तोड़ दिया।

एनएमसीएच और पीएमसीएच के जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल की वजह से दोनों अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गई हैं और मरीज बेहाल हैं। बता दें कि दोनों अस्पतालों के इमरजेंसी और ओपीडी दोनों विभागों के जूनियर डॉक्टर हड़ताल पर हैं। मरीजों के साथ ही परिजन भी परेशान हैं और उन्होंने आक्रोश जाहिर किया है।

जूनियर डॉक्टर मारपीट के दोषी लोगों की गिरफ्तारी और मेडिकल प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मांग कर रहे हैं।

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने पीएमसीएच और एनएमसीएच के जूनियर डॉक्टरों से अपील की है कि वो हड़ताल खत्म कर काम पर वापस लौट आएं। उन्होंने कहा है कि डॉक्टरों की सुरक्षा से कोई खिलवाड़ नहीं होगा। डॉक्टरों की सुरक्षा हमारी पहली प्राथमिकता है। उन्होंने आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

Tags:    
Share it
Top