Home > प्रदेश > बिहार > बिहार में नहीं टूटेगा महागठबंधन, दरभंगा नहीं बेतिया से चुनाव लड़ेंगे कीर्ति आजाद

बिहार में नहीं टूटेगा महागठबंधन, दरभंगा नहीं बेतिया से चुनाव लड़ेंगे कीर्ति आजाद

बिहार में नहीं टूटेगा महागठबंधन, दरभंगा नहीं बेतिया से चुनाव लड़ेंगे कीर्ति आजाद

बिहार में महागठबंधन में...Editor

बिहार में महागठबंधन में सीटों का पेंच फंसा हुआ है, जिसका फैसला आज पटना में महागठबंधन की प्रेस कांफ्रेंस में उम्मीदवारों के नाम के एलान के बाद हो जाएगा। उससे पहले आज दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ बिहार कांग्रेस नेताओं की आपात बैठक हुई। जिसके बाद अब खबर मिल रही है कि महागठबंधन में सबकुछ अॉल इज वेल है।

वहीं, दरभंगा सीट को लेकर राजद और कांग्रेस में जो जिच चल रही थी वो अब सुलझा ली गई है। दरभंगा सीट राजद के खाते में गई है और वहां से राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी ही चुनाव लड़ेंगे, तो वहीं दरभंगा सीट को लेकर जिद कर बैठे कांग्रेसी नेता कीर्ति झा आजाद अब बेतिया से चुनाव लड़ेंगे।

भाजपा ने कसा तंज-महागठबंधन महामिलावट है

इसपर बिहार भाजपा प्रभारी भूपेंद्र यादव ने महागठबंधन पर हमला बोलते हुए कहा है कि यह महागठबंधन महामिलावट है, इसलिए इनका सीट फार्मूला नहीं आ रहा है। उनलोगों में काफी आपसी नाराजगी है। भूपेंद्र यादव ने राहुल गांधी पर हमला बोला है कि कांग्रेस पार्टी झूठ की खेती कर रही है। इन लोगों के नेताओं का बयान गैरजिम्मेदाराना है।

उन्होंने कहा कि इन लोगों के नकारात्मक प्रचार को सभी नकार रहे हैं। राष्ट्रीय मुद्दों पर भी यह लोग राजनीति कर रहे हैं। देश का विकास मोदी जी ही कर सकते हैं।

भाजपा नेता राजीव प्रताप रूडी ने कहा कि महागठबंधन हताशा में है, एनडीए करेगी क्लीन स्वीप। कांग्रेस अपने सहयोगी के सामने पड़ रही है कमजोर।

महागठबंधन का है प्रेस कांफ्रेंस, नामों की होगी घोषणा

आज पटना के होटल में महागठबंधन की होने वाली प्रेस कांफ्रेंस में राजद की तरफ से नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सहित वरिष्ठ नेता शामिल होने वाले थे, लेकिन तेजस्वी की तबियत खराब होने की वजह से वो प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद नहीं रहेंगे।

इससे पहले बुधवार को दिल्ली में कांग्रेस की चुनाव समिति की बैठक में सीटों और उम्मीदवारों को लेकर काफी देर तक मंथन चलता रहा और आज भी बिहार कांग्रेस के नेताओं ने राहुल गांधी से मुलाकात कर अपनी बात रखी।

कहा जा रहा था कि बैठक के बाद कांग्रेस चुनाव समिति आज महागठबंधन में बने रहने और अपने उम्मीदवारों के नाम को लेकर बड़ा फैसला ले सकती है, लेकिन एेसी कोई बात सामने नहीं आई। कांग्रेस नेताओं की जिद देखकर कहा जा रहा है कि राजद के सामने कांग्रेस घुटने टेकने को तैयार नहीं और अपने उम्मीदवारों के लिए फ्रंटफुट पर खेलने को तैयार है।

कांग्रेस विधायक का बड़ा बयान

कांग्रेस के विधायक अमित कुमार टुन्ना ने बड़ा बयान दिया है जिसमें उन्होंने कहा है कि कांग्रेस बैकफुट पर नहीं आएगी। महागठबंधन में कांग्रेस को नुकसान हो रहा है और ये नुकसान कोई नहीं चाहता। कांग्रेस को फ्रंटफुट पर खेलना होगा। दबाव नहीं झेल सकते।

रंजीत रंजन ने कहा-हर परिस्थिति के लिए हैं तैयार

वहीं सुपौल से कांग्रेस की सांसद रंजीत रंजन ने कहा कि हर परिस्थिति के लिए कांग्रेस तैयार है। अगर बिहार में कार्यकर्ता तैयार है तो उसे पार्टी तवज्जो देगी। क्योंकि राहुल गांधी, प्रियंका गांधी ने कहा कि हमारा एक-एक कार्यकर्ता हमारे लिए अहम है।

कांग्रेस विधायक ने कहा-कांग्रेस को इग्नोर ना करे राजद

कांग्रेस विधायक राम देव राय ने कहा है कि लालू यादव और तेजस्वी को विचार करना चाहिए। कांग्रेस को इग्नोर करना ठीक नहीं। कांग्रेस को सस्ते तरीके से ट्रीट नहीं किया जाना चाहिए।

कांग्रेस को छह सीटों पर करना है फैसला

कांग्रेस चुनाव समिति आज अपने छह सीटों के उम्मीदवारों पर फैसला लेगी, जिसमें वाल्मीकिनगर सीट के लिए कीर्ति झा आजाद का नाम तय किया गया है तो वहीं समस्तीपुर, सासाराम, पटना साहिब, मुंगेर, सुपौल सीटों के सीटों के उम्मीदवारों पर भी आज फैसला हो सकता है।

वहीं, सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बिहार कांग्रेस के नेताओं से नाराज हैं। राहुल गांधी अपने नेता अखिलेश सिंह से खासा नाराज हैं , क्योंकि अखिलेश सिंह अपने बेटे को उम्मीदवार बनाना चाहते हैं। वो रालोसपा से उन्हें चुनाव में उम्मीदवार बनाना चाहते हैं।

सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक कीर्ति झा आजाद बाल्मिकीनगर से चुनाव नहीं लड़ेंगे। वो दरभंगा से ही चुनाव लड़ने पर अड़े हुए हैं। कांग्रेस चु्नाव समिति के बैठक में तो पांच सीटों पर फैसला सुलझा लिया गया है वहीं छठे सीट को लेकर अब भी तकरार जारी है।

Share it
Top