Home > देश > सुषमा स्वराज :-बिश्केक के लिए रवाना हुईं, शंघाई सहयोग संगठन में लेंगी हिस्सा

सुषमा स्वराज :-बिश्केक के लिए रवाना हुईं, शंघाई सहयोग संगठन में लेंगी हिस्सा

सुषमा स्वराज :-बिश्केक के लिए रवाना हुईं, शंघाई सहयोग संगठन में लेंगी हिस्सा

बता दें कि यह दूसरा मौका है...Editor

बता दें कि यह दूसरा मौका है जब भारत विदेश मंत्रियों की परिषद की बैठक में एससीओ के पूर्ण सदस्य के तौर पर शामिल हो रहा है।

कब और क्यों हुई SCO की स्थापना?

शंघाई सहयोग संगठन की स्थापना 2001 में हुई। इसके उद्देश्यों में सीमा विवादों का हल, आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई, क्षेत्रीय सुरक्षा को बढ़ाना और सेंट्रल एशिया में अमेरिका के बढ़ते प्रभाव को काउंटर करना शामिल है। इसके सदस्यों में चीन, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान, उज्बेकिस्तान, भारत और पाकिस्तान हैं।

2017 में SCO का पूर्ण सदस्‍य बना भारत

गौरतलब है कि साल 9 जुलाई 2017 को भारत शंघाई सहयोग संगठन (SCO) का पूर्ण सदस्य बना है। एससीओ के पूर्ण सदस्यों में भारत, चीन, रूस, किर्गिस्तान, ताजिकिस्तान, कजाकिस्तान, पाकिस्तान और उज्बेकिस्तान शामिल हैं। वहीं, अफगानिस्तान, मंगोलिया, इरान और बेलारूस पर्यवेक्षक हैं।

Share it
Top