Home > प्रदेश > उत्तराखंड > उत्तराखंड: यूसीसीसी ने चारों क्रिकेट एसोसिएशनों को अलग-अलग जिम्मेदारी बांटी

उत्तराखंड: यूसीसीसी ने चारों क्रिकेट एसोसिएशनों को अलग-अलग जिम्मेदारी बांटी

उत्तराखंड: यूसीसीसी ने चारों क्रिकेट एसोसिएशनों को अलग-अलग जिम्मेदारी बांटी

क्रिकेट प्रशासक समिति की ओर से ...Editor

क्रिकेट प्रशासक समिति की ओर से नियुक्त उत्तराखंड क्रिकेट कांसेंसस कमेटी (यूसीसीसी) ने प्रदेश की चारों क्रिकेट एसोसिएशनों को अलग-अलग जिम्मेदारी बांट दी है।

रणजी समेत सीनियर क्रिकेट कराने की जिम्मेदारी जहां क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड को सौंपी गई है, वहीं अंडर-19 क्रिकेट का जिम्मा उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन संभालेगी। यूसीसीसी के संयोजक प्रो. रत्नाकर सेट्टी की ओर से भेजी गई मेल में अंडर 16 क्रिकेट कराने की जिम्मेदारी उत्तरांचल क्रिकेट एसोसिएशन को सौंपी गई है। मेल के जरिये सभी को मैचों के शेड्यूल भी भेज दिए गए हैं।

मंगलवार दोपहर बाद करीब तीन बजकर 39 मिनट पर यूसीसीसी के संयोजक प्रो. रत्नाकर सेट्टी की ओर से कांसेंसस कमेटी में शामिल सभी सदस्यों को भेजी गई। मेल में बताया गया कि विजय हजारे ट्रॉफी (सीनियर मैन) 19 सितंबर से 20 अक्तूबर तक खेली जाएगी, वहीं विजय मर्चेंट ट्रॉफी (अंडर-16) तीन अक्तूबर से 14 दिसंबर के बीच खेली जाएगी। वीनू मांकड़ ट्रॉफी (अंडर-19) पांच अक्तूबर से 4 नवंबर तक खेली जाएगी। महिला अंडर-19 (टी-20 क्रिकेट लीग) 14 अक्तूबर से 4 नवंबर के बीच खेली जाएगी। आगे उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा है कि हम सभी को पहले इन टूर्नामेंटों पर फोकस करना है, इसलिए सभी मिली हुई अपनी जिम्मेदारी पर ध्यान दें, ताकि एक टीम की तरह आप काम कर सकें।

कोच से लेकर सपोर्टिंग स्टॉफ भेजेगा बोर्ड

बीसीसीआई अलग-अलग टीमों के चयन के लिए चयनकर्ताओं को भेजेगा। उनकी मदद के लिए आपकी एसोसिएशन से जुड़े प्रशिक्षक रहेंगे। टीम के चयन के बाद कोच और सपोर्टिंग स्टाफ भी बीसीसीआई ही भेजेगा। अगर आपके पास कोई नाम है तो उसे दे सकते हैं, पर अंतिम फैसला बोर्ड का ही होगा। ट्रायल के लिए बॉल से लेकर अन्य तरह की सुविधाएं बीसीसीआई ही उपलब्ध कराएगा। कुछ देर बाद आए दूसरे मेल में प्रो. सेट्टी ने स्पष्ट किया है कि आपको जो टूर्नामेंट दिए गए हैं, उस पर ध्यान दें। टीमों के चयन के लिए संभावित ग्राउंड और तारीखों के साथ कैंप के लिए जगह के बारे में अवगत कराए। इसके अलावा होटल, लोकल ट्रांसपोर्ट के अलावा कैटरिंग की व्यवस्था करने वालों के मोबाइल नंबर भेजे, ताकि निविदा के लिए उन्हें बीसीसीआई की ओर से फोन किया जा सके।

प्रमाणपत्रों में किसी प्रकार का समझौता नहीं

चयन के दौरान खिलाड़ियों की आयु से जुड़े प्रमाणपत्रों पर किसी भी प्रकार का समझौता चयनकर्ता नहीं करेंगे। इसलिए खिलाड़ी चयन के दौरान मूल जन्म प्रमाण पत्र लेकर आएं। जरूरी पड़ा तो अन्य प्रमाणपत्र भी मांगे जा सकते हैं। हम बेहतर टीम चुनना चाहते हैं।

प्रो. सेट्टी की ओर से हमें मेल प्राप्त हुआ है। हमारी एसोसिएशन को सीनियर क्रिकेट की जिम्मेदारी सौंपी गई है, हम पूरी इमानदारी से मिली हुई जिम्मेदारी को निभाएंगे। हम पर भरोसा जताने के लिए प्रो. रत्नाकर सेट्टी का आभार।

-महिम वर्मा, क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड

हमेें अंडर 19 क्रिकेट कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। हम सबसे पहले ट्रायल की तारीख और इंडोर स्टेडियम के नाम तय करके बोर्ड को भेजेंगे ताकि समय रहते ट्रायल हो सके। इंडोर स्टेडियम इसलिए क्योंकि बरसात में खुले में ट्रायल होना संभव नहीं है। हम पूरी जिम्मेदारी निभाएंगे।

- दिव्य नौटियाल,उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन

जूनियर लेवल का क्रिकेट कराने का जिम्मा हमारी एसोसिएशन को सौंपा गया है। प्रो. रत्नाकर सेट्टी के दिशा निर्देषों के मुताबिक सभी जिलों में जल्द से जल्द अंडर-16 के ट्रायल कराएंगे जाएंगे। दो दिन में बैठक करके हम बोर्ड को ट्रायल की तारीख और ग्रांउड का ब्योरा भेज देंगे।

-विजय नंद बहुगुणा, उत्तरांचल क्रिकेट एसोसिएशन

अंडर -19 महिला क्रिकेट कराने का कार्य यूसीसीसी संयोजक प्रो. रत्नाकर सेट्टी ने सौंपा है। जल्द ही बीसीसीआई के चयनकर्ताओं की देखरेख में दोनों मंडलों में ट्रायल कराकर प्रदेश की बेहतर टीम चुनी जाएगी।

Tags:    
Share it
Top