Top
Home > प्रदेश > उत्तराखंड > ट्रेन से कटकर हाथी की मौत, मौके से हाथियों का झुंड हवाई फायरिंग कर हटाया

ट्रेन से कटकर हाथी की मौत, मौके से हाथियों का झुंड हवाई फायरिंग कर हटाया

ट्रेन से कटकर हाथी की मौत, मौके से हाथियों का झुंड हवाई फायरिंग कर हटाया

हरिद्वार-देहरादून रेल ट्रैक पर ...Editor

हरिद्वार-देहरादून रेल ट्रैक पर ट्रेन से टकराकर एक मादा हाथी की मौत हो गई। घटना रायवाला जंक्शन से करीब चार किलोमीटर आगे राजाजी पार्क की हरिद्वार व मोतीचूर रेंज के मिलान पर हिमालयन कालोनी के पास की है। इसके बाद मौके पर हाथियों का झुंड जमा हो गया। इसे वन विभाग की टीम ने हवाई फायरिंग कर हटाया।

घटना देर रात करीब 12 बजे काठगोदाम एक्सप्रेस से हुई, लेकिन वन विभाग को इसका पता सुबह लगा। सुबह राजाजी पार्क की टीम मौके पर पहुंची। इस रेल ट्रैक पर इस साल में हाथी की मौत की यह तीसरी घटना है। इस जगह पर पहले भी हाथियों की मौत हो चुकी है।

13 अप्रैल 2013 को यहां पर एक साथ दो हाथी ट्रेन की चपेट में आने से मरे। हाल ही में 18 फरवरी 2018 व फिर 21 मार्च को नंदा देवी एक्सप्रेस की चपेट में आने से हाथियों की मौत हुई।

टूटी क्लिपिंग पर ही दौड़ रही ट्रेन

हाथी की मौत के बाद इससे भी बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। पटरी की क्लिपिंग टूटी होने के बाद भी मुसाफिरों की जान से खिलवाड़ करते हुए ट्रैक पर ट्रेनें दौड़ाई जा रही हैं। वन विभाग के अधिकारी मौके पर तो सुबह पहुंच गए थे, लेकिन रेलवे का कोई भी अधिकारी नहीं पहुंचा।


पार्क निदेशक सनातन ने बताया कि हादसा रेलवे की लापरवाही से हुआ। रात को 17 हाथियों का झुंड रेल ट्रैक पार कर रहा था। इस दौरान ट्रैक पर मौजूद गश्ती कर्मियों ने ट्रेन को रोकने के लिए चालक को संकेत दिए, लेकिन ट्रेन रोकना तो दूर इसकी गति को धीमा तक नहीं किया गया।

झुंड में शामिल मादा वयस्क हाथी के पीछे के हिस्से में तेज टक्कर लगने से वह गिर पड़ी। कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई। हाथी की पोस्टमार्टम व दफनाने की तैयारी की जा रही है। हाथी की उम्र करीब 35 वर्ष है। उन्होंने बताया कि रेल चालक के खिलाफ एक्शन लिया जाएगा।

फायरिंग कर हाथियों को खदेड़ा

घटना के वक्त मौजूद दूसरे हाथियों ने मृत हाथी को घेर लिया और सुबह तक वहां से नहीं हटे। बाद में वन कर्मियों ने फायरिंग कर हाथियों को वहां से हटाया। इसके बाद हाथियों का झुंड कुछ दूर पर खड़ा हो गया।

Tags:    
Share it
Top