Top
Home > प्रदेश > उत्तराखंड > उत्तराखंड में पहाड़ से लेकर मैदान तक योगमयी हुई देवभूमि

उत्तराखंड में पहाड़ से लेकर मैदान तक योगमयी हुई देवभूमि

उत्तराखंड में पहाड़ से लेकर मैदान तक योगमयी हुई देवभूमि

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस में...Editor

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस में अपनी शत प्रतिशत भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए राजधानी दून सहित प्रदेश भर के लोगों में भी उत्साह देखा गया। पहाड़ से लेकर मैदान तक देवभूमि योगमयी हो गई। इस मौके पर मौसम ने भी पूरा साथ दिया। गढ़वाल और कुमाऊं के पर्वतीय जिलों के साथ ही मैदानी क्षेत्र में सुबह से पांच बजे से ही योग के लिए लोगों की भीड़ जुटनी शुरू हो गई थी।

योग से निरोग रहने के लिए सरकार से लेकर शासन-प्रशासन के अधिकारी, सरकारी-निजी संस्थान व आमजन पहले से तैयार थे। इसके तहत आयोजन स्थलों में सुबह से ही लोगों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था।

राज्य सरकार की और से पवेलियन ग्राउंड में योगाभ्यास का वृहद कार्यक्रम आयोजित किया गया। जो सुबह सात बजे शुरू हुआ।

इस मौके पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह ने योग शिविर का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा योग वसुदेव कुटुंभ की परिकल्पना को साकार कर रहा है। योग की सुविधा हर क्षेत्र में उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने जिम में भी योग की व्यवस्था कराने को कहा, ताकि जिम के साथ साथ लोग योग कर सके।

योग शिविर में मंत्री डॉ हरक सिंह रावत, डॉ धन सिंह रावत, मुख्य सचिव उतपल कुमार सिंह, डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी, समेत भाजपा के विधायक और मंत्री ने भाग लिया।

राज्य सरकार के कार्यक्रम के अलावा तमाम केंद्रीय संस्थानों में भी योगाभ्यास के कार्यक्रम आयोजित किए गए। वन अनुसंधान संस्थान (एफआरआइ) में सुबह साढ़े पांच बजे योग का कार्यक्रम शुरू हुआ। गढ़ी कैंट स्थित गोल्फ कोर्स में छह बजे, वाडिया हिमालय भूविज्ञान संस्थान में सात बजे योग के लिए लोग जुटे।

दूसरी तरफ तमाम निजी प्रतिष्ठानों में भी योगाभ्यास के कार्यक्रम आयोजित किए गए। पहले ही बड़े स्तर पर योग प्रशिक्षकों की बुकिंग भी की जा चुकी है और इससे कहीं न कहीं इस सेक्टर को बूम मिलने की भी उम्मीद बढ़ गई है। क्योंकि साल-दर-साल दून में निरोगी बनने के लिए योग के प्रति लोगों का क्रेज बढ़ता जा रहा है।

ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट में नगर निगम और गंगा सभा की ओर से आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्याम जाजू ने किया। उन्होंने कहा कि योग को स्वामी रामदेव, श्री श्री रविशंकर या फिर नरेंद्र मोदी लेकर नहीं आए बल्कि यह तो हमारी पौराणिक विरासत है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रयास से विश्व पटल पर योग को मान्यता मिली है। 193 देश योग को अपना रहे हैं।

इस अवसर पर स्पेन से आए योग साधकों ने आत्म सुरक्षा से जुड़े आसनों का प्रदर्शन किया। योग शिक्षक आयुषी टंडन ने विभिन्न आसन प्रदर्शित किए। स्वामी राम साधक राम के योग साधकों ने भी योग कला था प्रदर्शन किया। इस अवसर पर नगर निगम की महापौर अनीता ममगाई सहायक नगर आयुक्त उत्तम सिंह नेगी सहित काफी संख्या में लोग मौजूद रहे।

आईडीपीएल स्थित सामुदायिक केंद्र में भाजपा के ग्रामीण और नगर मंडल की ओर से योग दिवस मनाया गया। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ,भाजपा के प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू और प्रदेश महामंत्री नरेश बंसल ने योगाभ्यास किया। सीमा सड़क संगठन शिवालिक परियोजना के आईडीपीएल स्थित मुख्यालय में कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अभियंता आशु सिंह राठौर ने किया। योगीराज करण पाल महाराज ने बीआरओ के जवानों को योग कराया। मुनिकीरेती स्थित सुमन पार्क में नगर पालिका परिषद के द्वारा योग दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ पालिकाध्यक्ष रोशन रतूड़ी ने किया।

हरिद्वार में बड़ी संख्या में जुटे योग साधक

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर धर्मनगरी में हर ओर योग की धूम है। देवपुरा स्टेडियम, पीएससी, पुलिस लाइन, भेल सेक्टर तीन के स्वर्ण जयंती पार्क में बड़ी संख्या में लोग योग करने को सुबह ही जुट गए। देवपुरा में स्थानीय प्रशासन का आयोजन पीएसी में पीएसी कमांडेंट रोशन लाल शर्मा और पुलिस लाइन में पुलिस की ओर से योग दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं । अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर पतंजलि योग समिति, भारत स्वाभिमान न्यास, महिला पतंजलि योग समिति, किसान सेवा समिति, युवा भारत की ओर से भेल सेक्टर तीन स्थित स्वर्ण जयंती पार्क में योग कार्यक्रम में अखिल भारतीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी आरएसएस के सदस्य और वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार भाजपा के विधायक, महापौर अनिता शर्मा, शिवालिकनगर पालिका अध्यक्ष राजीव शर्मा, दर्जाधारी विनोद आर्य आदि ने योग किया।

पिथौरागढ़ में भी दिखा उत्साह

पिथौरागढ़ के राम लीला मैदान में पतंजलि योग समिति के तत्वाधान में योग करने पहुंचे लोगों में भी उत्साह देखा गया। काशीपुर के रामलीला, रुद्रपुर जनता इंटर कॉलेज, किच्छा के विवेकानंद पार्क में भी सुबह से लोग मैदान में योग करने को पहुंच गए थे। बाजपुर स्थित श्री रामभवन धर्मशाला में आयोजित तीन दिवसीय योग शिविर का शुभारंभ एसडीएम एपी बाजपेयी, बलराज पासी, सुशील सिंघला, कुलदीप चौधरी आदि ने संयुक्त रूप से किया।

जागरण के संग योग

दैनिक जागरण की ओर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर हरिद्वार रोड स्थित होटल एमजे रेजीडेंसी में योग से होंगे निरोग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें अधिक संख्या में हिस्सा लेने पहुंचे लोगों में योग को लेकर खासा उत्साह देखने को मिला। योग प्रशिक्षक हिमांशु सारस्वत ने प्रशिक्षणार्थियों को सूर्य नमस्कार, सूक्ष्म व्यायाम व अन्य योग कराया। बताया कि सूक्ष्म व्यायाम जोड़ों में दर्द में असरदायक होता है। इसके अलावा भी अन्य योग के बारे में जानकारी दी गई।

उन्होंने कहा कि योग से शरीर निरोग रहता है और मस्तिष्क भी स्वस्थ रहता है। योग न करने से शरीर में तमाम रोग प्रवेश करने लगते है। हमारी समस्या यह रहती है कि हम जब बीमारी से परेशान हो जाते हैं, तब रोग को अपनाते हैं। अच्छा होगा कि हम पूर्व से ही योग को नियमित दिनचर्या का हिस्सा बना लें।

योगाभ्यास के बीच में बच्चों के ग्रुप ने योगासन से विभिन्न आकृतियां बनाकर सभा ध्यान खींचा। प्रस्तुति ने खूब लोगों की तालियां बटोरी। कार्यक्रम में छोटी उम्र के बच्चों से लेकर बुजुर्ग लोग भी पहुंचे।

राज्यपाल व मुख्यमंत्री दी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर शुभकामनाएं

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं। अपने संदेश में राज्यपाल ने कहा कि योग एक प्राचीन परंपरा और आध्यात्मिक अनुशासन है। इसमें तन, मन और प्रकृति के बीच एकात्म भाव स्थापित किया जाता है। योग स्वस्थ तन-मन के लिए समावेशी दृष्टिकोण के साथ शारीरिक व मानसिक ऊर्जा को सुव्यवस्थित करने का साधन है।

राज्यपाल एवं राजभवन के सभी अधिकारी-कर्मचारी अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सुबह सात बजे राजभवन लॉन में आयोजित कार्यक्रम में योगाभ्यास करेंगे।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि नियमित योग हमें मानसिक व शारीरिक रूप से स्वस्थ बनाने में मददगार रहता है। योग को जन आंदोलन बनाने के लिए आम आदमी की सहभागिता को जरूरी बताते हुए उन्होंने कहा कि योग की धारा देवभूमि उत्तराखंड से प्रवाहित हुई है। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि योग दिवस के अवसर पर योग कार्यक्रम में अवश्य शामिल हों।

योग दिवस के लिए जिलों को भी मिलेगा बजट

आयुष मंत्रालय ने अगले वर्ष से प्रदेश के सभी जिलों को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के लिए बजट आवंटित करने का निर्णय लिया है। अगले बजट में इसकी पहले से ही व्यवस्था कर ली जाएगी। आयुष मंत्री हरक सिंह रावत ने अधिकारियों को इसकी व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं।

आयुष मंत्री हरक सिंह रावत ने योग दिवस की तैयारियों को लेकर विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों से सभी जिलों में योग दिवस मनाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अगले वर्ष से सरकार सभी जिलों में योग दिवस के लिए बजट जारी करेगी।

अभी सभी जिलों में योग दिवस के आयोजन के निर्देश तो दिए जाते हैं लेकिन बजट की व्यवस्था न होने के कारण यह आयोजन उस स्तर के नहीं हो पाते हैं। सरकार की मंशा प्रदेश को योग प्रदेश बनाने की है। इसे देखते हुए अगले वर्ष से सभी जिलों में योग दिवस मनाने के लिए बजट का प्रावधान किया जाएगा। बैठक में सचिव आयुष अरविंद सिंह ह्यांकी समेत विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Share it
Top