Top
Home > प्रदेश > उत्तरप्रदेश > रेप केस में अपनी ही गिरफ़्तारी के लिए IG पहुंच गए SSP के सामने

रेप केस में अपनी ही गिरफ़्तारी के लिए IG पहुंच गए SSP के सामने

रेप केस में अपनी ही गिरफ़्तारी के लिए IG पहुंच गए SSP के सामने

आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर और...Public Khabar

आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर और उनकी पत्नी एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर आज सुबह 11 बजे अपने ऊपर दर्ज रेप केस में गिरफ़्तारी के लिए एसएसपी आवास पहुंचे.

वहां उन्होंने एसएसपी मजिल सैनी से कहा कि मुलायम सिंह धमकी के ठीक बाद 13 जुलाई 2015 को अचानक दर्ज हुए इस केस में आज 18 महीने बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई है. विवेचक सीओ गोमतीनगर सत्यसेन यादव द्वारा न ही कोई साक्ष्य संकलन किया गया है और कथित घटनास्थल का निरीक्षण तक नहीं किया गया है.

अमिताभ और नूतन ने कहा कि ऐसा मात्र इसीलिए हो रहा है क्योंकि सभी पुलिस अफसर जानते हैं कि मामला पूरी तरह झूठा है पर उच्चस्तरीय राजनैतिक दवाब के कारण मुक़दमा समाप्त करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं और पिछले 18 महीने से वे अकारण बलात्कार जैसे घिनौने अपराध के मुलजिम बने हुए हैं.

एसएसपी मंजिल सैनी ने स्वीकार किया कि मामले में इन दोनों के खिलाफ कोई साक्ष्य नहीं मिला है और यहाँ तक की मोबाइल फ़ोनों के सीडीआर में भी कथित पीड़िता से किसी प्रकार का संपर्क नहीं है. उन्होंने कहा कि एक महीने में इस मामले में कार्यवाही पूरी कर ली जायेगी. साथ ही उन्होंने मामले के विवेचक सीओ गोमतीनगर के खिलाफ विभागीय जाँच के आदेश भी दे दिए गए है. इसके बाद वे दोनों वहां से लौट गए.

Tags:    
Share it
Top