Top
Home > लाइफस्टाइल > 18+ > सेक्स के बाद महिलाओं में आते हैं कई तरह के बदलाव

सेक्स के बाद महिलाओं में आते हैं कई तरह के बदलाव

  • In 18+
  •  4 April 2019 6:58 AM GMT

सेक्स के बाद महिलाओं में आते हैं कई तरह के बदलाव

सेक्स किसी भी रिश्ते के लिए...Editor

सेक्स किसी भी रिश्ते के लिए बड़ा बदलाव लेकर आता है. दो लोगों में जब भी सेक्स होता है तो उनमे इमोशन्स भी जुड़ जाते हैं. कपल के बीच की बॉन्डिंग को भी यह कई तरह से प्रभावित करता है, लेकिन बात यहीं पर खत्म नहीं हो जाती. यौन संबंध शुरू करने के बाद लड़कियों के शरीर में भी कई तरह के बदलाव आते हैं. जानिए वो किस तरह के बदलाव आते हैं जब लड़की सेक्स करना शुरू कर देती है.

हॉर्मोन में बदलाव

सेक्स के बाद पुरुषों के मुकाबले महिलाओं के शरीर में दिमाग ज्यादा ऑक्सीटॉसिन और डोपामाइन हॉर्मोन छोड़ता है. इसका उनके इमोशन्स के साथ ही बर्ताव पर भी असर पड़ता है. यह असर सिर्फ कुछ देर का नहीं बल्कि धीरे-धीरे पूरी पर्सनैलिटी पर भी असर डालता है.

कॉन्फिडेंस

यौन संबंधों की शुरुआत महिलाओं में अपनी बॉडी को लेकर कॉन्फिडेंस को भी बढ़ाता है. जब पार्टनर ऐसा हो जो आपकी हर चीज से प्यार करे तो कॉन्फिडेंस बढ़ना जायज सी बात है.

ब्रेस्ट फर्म होना

सेक्स के दौरान और उसके बाद ब्रेस्ट ज्यादा फर्म हो जाते हैं. दरअसल, यौन संबंध के दौरान नर्वस सिस्टम भी रिऐक्ट करता है और ब्रेस्ट ज्यादा फर्म हो जाते हैं. हालांकि यह न समझें कि ब्रेस्ट की यह फर्मनेस बनी रहेगी. दिमाग और बॉडी के रिलैक्स होते ही यह भी चली जाएगी.

ब्रेस्ट का साइज बढ़ना

यौन संबंधों की शुरुआत के बाद महिलाओं के ब्रेस्ट का साइज भी बढ़ने लगता है. ऐसा हॉर्मोन में आने वाले बदलावों के कारण होता है. हालांकि ऐसा सभी के साथ हो ऐसा जरूरी नहीं है.

क्लिटरिस और यूट्रस

यौन संबंधों के शुरू होने के बाद क्लिटरिस और यूट्रस के रिऐक्शन में भी बदलाव आता है. इंटरकोर्स से उत्तेजित होने पर वह स्वैल हो जाते हैं. इस रिऐक्शन को दिमाग याद रखता है और सेक्शुअल एक्साइटमेंट की स्थिति में ऐसे ही हर बार रिऐक्ट करता है.

Share it
Top