Home > देश > नोटबंदी के बावजूद भारत दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ती अर्थव्यवस्था

नोटबंदी के बावजूद भारत दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ती अर्थव्यवस्था

नोटबंदी के बावजूद भारत दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ती अर्थव्यवस्था

नई दिल्ली. नोटबंदी को लेकर हर ...Public Khabar

नई दिल्ली. नोटबंदी को लेकर हर मोर्चे पर घेरे जाने वाली एनडीए सरकार के लिए राहत भरी खबर है। नोटबंदी के बावजूद भारत अब भी दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था बना हुआ है। इस मामले में भारत ने चीन को अभी भी पीछे छोड़ा हुआ है। जिस तरह से नोटबंदी के बाद लोगों को परेशानी हुई, उसको देखते हुए यह काफी हैरान करने वाला है।


नोटबंदी के समय भारत की विकास दर अक्टूबर-दिसंबर की तिमाही में 7 फीसदी ही रही। यह पिछले क्वार्टर से कम रहा। पिछली तिमाही में यह विकास दर 7.4 फीसदी रही थी।

नोटबंदी के बाद 2016-17 में जीडीपी ग्रोथ 7.1 फीसदी पर रहने का अंदाजा है, जो इससे पिछले वित्त वर्ष में 7.9 फीसदी रही थी। वहीं भारत का पड़ोसी देश चीन दिंसबर वाली तिमाही में भारत से पीछे रहा। इस तिमाही में उसकी विकास दर 6.8 प्रतिशत रही।

इस बारे में जानकारी देते हुए आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने बताया कि नोटबंदी का प्रभाव सीमित और बेहद कम वक्त के लिए रहा। नोटबंदी के बाद अनुअमां लगाया गया था कि अर्थव्यस्था के 7 फीसदी तक रहेगी।

शक्तिकांत दास ने आगे कहा कि अब बैंकों से नकदी की कमी की कोई शिकायत नहीं है। एटीएम में कमी की कुछ शिकायतें हैं और रिजर्व बैंक, वित्तीय सेवा और बैंक इसे देख रहे हैं। दास ने कहा, 'नोटबंदी के तथाकथित नकारात्मक प्रभाव के बारे में जो चीजें बढ़ा-चढ़ाकर कही जा रही थीं। यह जानकर काफी संतुष्टि हुई कि ऐसा कुछ नहीं हैं क्योंकि भारत अभी भी 7 प्रतिशत से अधिक वृद्धि दर्ज करने वाला देश बना हुआ है।

Tags:    
Share it
Top