Home > देश > जब सोनिया ने मनमोहन का किया था अपमान वायरल हो रहा है VIDEO

जब सोनिया ने मनमोहन का किया था अपमान वायरल हो रहा है VIDEO

जब सोनिया ने मनमोहन का किया था अपमान वायरल हो रहा है VIDEO

सोशल मीडिया पर एक वीडियो...Public Khabar



सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसे देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस तरह सोनिया गाँधी ने एक कार्यक्रम में मनमोहन सिंह को नजरअंदाज कर दिया. यह उसी कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष हैं जो वर्तमान प्रधानमंत्री पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का अपमान करने का आरोप लगा रहा है.

इस वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि किस तरह समारोह के लिए कांग्रेस की अध्यक्षा सोनिया गांधी समरोह स्थल पर पहुंचती हैं. मनमोहन सिंह उन्हें रिसीव करने के लिए लोगों के साथ मौजूद हैं.

हालांकि मनमोहन सिंह सामने खड़े हैं, लेकिन फिर भी सोनिया उन्हें इग्नोर करते हुए आयोजकों से माला पहनती हैं और मनमोहन सिंह को बुरी तरह से नज्रंदाज करते हुए आगे बढ़ जाती हैं. गौरतलब है कि मनमोहन सिंह उस समय भारत के प्रधानमंत्री थे.

नीचे क्लिक कर देखें वीडियो, जिसमें सोनिया गांधी मनमोहन सिंह को साफ़ नजरअंदाज करते नजर आ रही हैं




वहीं दूसरी तरफ राज्यसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर रेनकोट वाले बयान पर सियासी घमासान कम होने के बजाय बढ़ता नजर आ रहा है.

बयान पर कांग्रेस की ओर से तीखी प्रतिक्रिया देने के बाद पहले भाजपा और अब केंद्र सरकार ने पलटवार किया है. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा सरकार के ऑर्डिनेंस फाड़ने की घटना का जिक्र करते हुए आरोप लगाया कि उनके उस बर्ताव से तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का अपमान हुआ था.

मनमोहन सरकार के दस वर्ष के कार्यकाल में पृथ्वी के पांच तत्व नभ, थल, जल, वायु, अग्नि में भ्रष्टाचार को अंजाम दिया गया था. रविशंकर प्रसाद ने कहा जब पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव का निधन हुआ तो उनके शव को कांग्रेस मुख्यालय में घुसने नहीं दिया गया था.

इसके पीछे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का हाथ था. मनमोहन के सामने उनके राजनितिक गुरु नरसिम्हा राव का अपमान हुआ था. लेकिन वह 10 वर्ष प्रधानमंत्री रहते हुए भी कुछ नहीं कर पाए. गांधी परिवार के दबाव की वजह से नरसिम्हा राव का अंतिम संस्कार दिल्ली में नहीं हो पाया और उनका शव परिवारवालों की इच्छा के विपरीत जबरन हैदराबाद भिजवा दिया गया था.

इन घटनाओं का विवरण संजय बारू की किताब में दर्ज है. रविशंकर प्रसाद ने यहां तक कहा कि उन्हें मनमोहन सिंह पर कभी-कभी तरस आता है. कांग्रेस और गांधी परिवार ने मनमोहन सिंह की कथित विश्वसनीयता को भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए इस्तेमाल किया है.

उल्लेखनीय है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान तंज कसते हुए कहा था कि बाथरूम में रेनकोट पहनकर नहाना कोई डॉक्टर साहब (मनमोहन सिंह) से सीखे.

इस बात पर भड़की कांग्रेस ने सदन से वॉकआउट कर दिया था. इस बयान को कांग्रेस ने मनमोहन सिंह का अपमान बताते हुए पीएम से माफी मांगने की मांग की थी.

Tags:    
Share it
Top